pulvama attack

pulvama

उन शहीदों की शहादत को, मुश्किल है अब भूल पाना । उठो साथी कूच करो, पुकार रहा है पुलवामा ।। कितनी माँ ने लाल खो दिये,कितने सुहाग, सुहागिन ने । कितने बच्चे पिता खो गये,कितने भाई, बहिन ने ।। बिलखती उन आँखो के आँसू,की कीमत है चुकवाना । उठो साथी कूच करो,पुकार रहा है पुलवामा …

pulvama Read More »

1
Hello
Can we help you?
Powered by